जुनून – Junoon Motivational Story In Hindi

जुनून – Junoon Motivational Story In Hindi

Junoon Motivational Story In Hindi Inspirational Short Story In Hindi जुनून Here, You Can Read Latest Collection Short Motivational Speech In Hindi For Students Life Lessons Motivational Quotes Success Story And Tips

जुनून - Junoon Motivational Story In Hindi

आज मै आपको तीन ऐसे सक्सेस स्टोरी बताने वाला हूँ जो आपके अंदर एक जबरदस्त आग लगाने वाली है अगर आप अपने लाइफ में कुछ भी पाना चाहते हो तो ये तीन सक्सेस स्टोरी जरूर सुन लेना क्योकि क्योकि कुछ भी पाने के लिए अंदर एक आग का होना बहुत ही जरुरी है।

पहली कहानी सुरु होती है 30 जुलाई 1947 को जब ऑस्ट्रेलिया में एक बच्चे का जन्म हुआ। उसके पिता पुलिस अफसर थे छोटी-छोटी गलतियों पर उसे बुरी तरह से पीटते थे कभी बाल खींचते तो कभी बेल्ट से मारते। बस उसकी माँ थी जो उसे आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करती है।

उस लड़के ने मात्र 14 साल की उम्र में जिम करना सुरु कर दिया। वह कई घंटे जिम में बिताने लगा उसके दिमाग में सिर्फ एक ही चीज़ थी की मुझे बॉडीबिल्डिंग में भाग लेना है।

जब वह 18 साल का हुआ तो उसके कंट्री के हर एक व्यक्ति की तरह कंपल्सरी उसे भी आर्मी ज्वाइन करनी पड़ी लेकिन उस बंदे ने सर्विस के दौरान भी वर्कआउट करना नहीं छोड़ा और कुछ दिनों बाद अपने मेहनत के दम पर उसने जूनियर मिस्टर यूरोप कॉन्सटेस्ट जीता लेकिन वह बंदा यही पर नहीं रुका उसने अपना नेक्स्ट टारगेट सेट किया मिस्टर यूनिवर्स बनने का।

वह अमेरिका जाकर ट्रेनिंग लेने लगा और वहा पर अपने दूसरे अटेंप्ट में मिस्टर यूनिवर्स बन गया लेकिन वह बंदा यहाँ पर भी नहीं रुका वह मात्र 23 साल की उम्र में मिस्टर ओलम्पिया बन गया जो की एक वर्ल्ड रिकॉर्ड था लेकिन वह बंदा अभी भी नहीं रुका।

उसने फिर एक सपना देखा वह था हॉलीवुड फिल्मो में एक्टिंग करने का काफी मेहनत के बाद उसे एक फिल्म मिली “The Long Goodbye” लेकिन इस फिल्म में उस बंदे का एक भी डायलाग नहीं था।

1977 फिर उसे एक फिल्म मिली “Pumping Iron” और यह फिल्म थी जो उसे पहचाने दिलाई और फिर 1982 में उसे फिल्म मिली “Conan The Barbarian”जो की सुपरहिट रही उसके बाद उसने कई फिल्मो में काम किया और अब उसने राजनितिक में जाने का सोचा।

अपनी मेहनत के बदौलत वह बंदा कैलिफोर्निया का गवर्नर बना उस बंदे का नाम है “Arnold Schwarzenegger” जिसने बॉडी बिल्डिंग के ऊपर कई किताबे लिख डाली।

ऐसे ही मोटिवेशन से भर देने वाली कहानी है राकेश शर्मा की एक ड्रग रिएक्शन की वजह से मात्र दो साल की उम्र में इस बंदे की आँखो की रोशनी चली गयी। जब वे स्कूल में एडमिशन कराने गए तो वो एडमिशन लेने से मना कर दिया उसके बाद इनके पेरेंट्स ने एक स्पेशल स्कूल से इनकी पढ़ाई करवाई।

लोगो ने उसके पेरेंट्स से बोला की ये अपने लाइफ में कुछ नहीं कर पायेगा इससे उम्मीद मत रखो लेकिन इस बंदे के माँ-बाप को इस पर पूरा भरोषा था उन्होंने इसको क्रोड़ीमल कॉलेज से ग्रेजुएशन करवाई आगे चलकर इस बंदे ने UPSC की तैयारी की और आपको जानकर हैरानी होगी की अँधा होने की वजह से जिस बंदे के माँ-बाप को लोगो ने ये बोला था की इससे उम्मीद मत रखो ये कुछ नहीं कर पायेगा।

उसी लड़के ने अपने मेहनत की बदौलत फर्स्ट एटेम्पट में ही UPSC क्लियर करके उनके मुँह बंद कर दिया और बन गया IAS राकेश शर्मा।

लोग कुछ भी बोले उनको बोलने दो बस तुम्हे सोते, जागते, उठते, बैठते अंदर से एक ही चीज़ सुनाई देनी चाहिए की तुम्हे किसी भी कीमत पर अपने लक्ष्य तक पहुंचना है।

ऐसे ही एक जूनून से भर देने वाली कहानी है “Sadio Mane” की जिसे सुनने के बाद आप बहाने मरना भूल जाओगे। अफ्रीका के Senegal देश के एक छोटे से गांव का लड़का जिसे फूटबाल खेलने का जूनन इस कदर सवार हो गया की कचरे में से उठाये फटे जुते पहनकर वह कपडे की फुटबॉल से प्रैक्टिस करने लगा क्योकि इस बंदे के पास न तो जुते खरीदने के पैसे थे और न ही फुटबॉल खरीदने के यहाँ तक की कभी कबार इस बंदे को खाना भी नसीब नहीं होता था और ऐसे वक्त में यह लड़का मिटटी खाकर अपना भूख मिटाता था।

और मै दावे के साथ कह सकता हूँ की ऐसी कंडीशन आपकी नहीं होगी क्योकि जिस फोन या लैपटॉप पर आप यह देख रहे हो वह हजारो रूपये का है लेकिन उस बंदे के पास तो खाने तक के पैसे नहीं थे वह फटे जुते से फुटबॉल की प्रैक्टिस करता था कोई नहीं था उसे ट्रैन करने वाला लेकिन फिर भी उस बंदे को अपने आप पर विस्वाश था।

एक जिद थी की एक दिन पूरी दुनिया मुझे मेरे नाम से जानेगी और जब यह 12 साल का था तो इसके देश के राजधानी में फुटबॉल के ट्रायल्स हुए उस वक्त उस बंदे के बाद वह तक ट्रेवल करने तक के भी पैसे नहीं थे।

लेकिन जूनन इस कदर सवार था की 12 साल का ये लड़का 160 km भागते हुए वहा पंहुचा सिर्फ ट्रायल देने के लिए अब आप ही सोचो की कितनी आग होगी उस बंदे के अंदर जब यह अपने फटे हुए जूतों में वह पर पंहुचा तो लोगो ने वह पर उसका मजाक बनाया।

लेकिन इस बंदे के 5 मिनट के ट्रायल ने सब लोगो की बोलती बंद कर दी। उसने दिखा दिया की फटे हाल वाला भी ये लड़का भी रिकॉर्ड तोड़ सकता है उस वक्त कोच ने 12 साल के Sadio Mane को बोला की एक दिन लोग मुझे तेरे नाम से जानेंगे उस दिन Sadio Mane बहुत खुश था।

जब ये बंदा ख़ुशख़बरी सुनाने के लिए दौड़ता हुआ अपने घर गया तब देखा की इसके पिता जी की हार्ट अटैक से मौत हो चुकी है सोचो उस दिन 12 साल के इस लड़के की क्या हालत हुयी होगी। अब इसके पास प्यार करने के लिए सिर्फ एक ही चीज़ बची थी वो थी फुटबॉल उसने अपने आँसू पोछे और प्रैक्टिस करना सुरु कर दिया।

उसका प्रैक्टिस और इस Game के लिए जुनून देखकर फ्रांस के एक बहुत बड़े Club ने उसे Select कर लिया और आपको जानकर हैरानी होगी की जिस लड़के ने फटे जुते पहनकर फुटबॉल खेलना सुरु किया था आज वही बंदा दुनिया के सबसे बड़े Football Club के लिए खेलता है।

इस बंदे ने 2 मिनट 56 सेकंड में Back To Back तीन गोल करके एक ऐसा World Record भी बनाया है जिसे आज तक कोई नहीं तोड़ पाया है।

ऐसा जूनून ऐसा पागलपन अपने अंदर लाओ एक वजह को जन्म दो और बहाने लगाना तो छोड़ ही दो तभी तुम अपने Life में कुछ पा पाओगे।


Read Also :-

Share With Your Friends