5 Success Tips For Youth In Hindi – जवानी की 5 गलतियाँ बर्बाद कर देंगी।

Inspirational Success Tips For Youth In Hindi Motivational Speech In Hindi For Students In Hindi Short Life Changing Tips ये पांच गलतिया आपकी ज़िंदगी बर्बाद कर देंगी Here, You Can Read Latest Collection Short Motivational Speech In Hindi For Students Life Lessons Motivational Quotes Success Story And Tips

5 Success Tips For Youth In Hindi

5 Success Tips For Youth In Hindi | Tips To Be Successful In Life

पैसा हो बहुत और जवानी हो पल्ले।
बहुत मुश्किल हैं की कोई सीधा चल ले।।

जवानी में जोश तो बहुत होता हैं लेकिन होश बहुत कम होता हैं जोश होना बहुत अच्छी बात हैं लेकिन उसके साथ होश होना भी बहुत जरुरी हैं। ये जवानी इंसान के ज़िंदगी का सबसे खूबसूरत समय होता हैं, बिगड़ने और कुछ बन जाने का समय होता हैं। इस उम्र में अगर कोई गन्दी आदते लग गयी ना तो ये आदते आपका तब तक पीछा नहीं छोड़ती जब तक आपको पूरा बर्बाद ना कर दें।

कितना दुःख होता हैं ये देखकर आजकल के ये जवान बच्चे अपनी गलत आदतों की वजह से खुद ही अपनी ज़िंदगी बर्बाद कर रहे हैं। इस उम्र में हर गन्दी चीज़ बहुत अच्छी लगती हैं, बहुत आकर्षित करती हैं मन को, लेकिन ये उम्र हैं ही ऐसी की सही गलत का होश ही नहीं रहता।

इसीलिए आज बहुत सोच समझकर हमारे युवा पीढ़ी के लिए ऐसी पांच बातो पर गौर किया हैं जो हमारे जवान बच्चो की ज़िंदगी बर्बाद कर रही हैं और चाहे आप कुछ भी करो लेकिन इन पांच बातो से बिलकुल दूर रहना।

1. किसी भी तरह के नशे से दूर रहे।

सबसे पहली बात आप किसी भी तरह के नशे से खुद को दूर रखे, नशा छोटा हो या बड़ा यदि वो आपका आदत बन गया तो आपको ज़िंदगी को बर्बाद करके रख देता हैं चाहे वो स्मोकिंग हो ड्रिंकिंग हो या तम्बाकू खाना हो या किसी और तरह का नशा हो।

यदि जवानी की उम्र में आप किसी नशे में फस गए तो बहुत मुश्किल होता हैं उस गली से फिर बहार आना। आदते लगाना तो बहुत आसान होता हैं लेकिन आदते छोड़ना बहुत ही मुश्किल होता हैं। आप ऐसी संगत में रहो ही मत जो लोग नाश करते हैं आप उनसे दूर रहो।

आप ऐसे लोगो के साथ रहो जो कर्रिएर ओरिएंटेड हो, जो लाइफ में कुछ करना चाहते हैं। जो लोग नशे-पते में डूबे रहते हैं आपकी भलाई इसी में हैं की आप खुद को उनसे दूर रखे।

आज कल के युवाओ को ये कहकर भटकाया जाता हैं अरे तुम नशा नहीं करते तुम तो मोर्डर्न ही नहीं हो, तुम तो पुरानी सोच वाले हो, आज-कल तो हर कोई नशा करता हैं या फिर ये कहेंगे की कभी-कभी चलता हैं कोई बात नहीं तुम पि सकते हो तुम नशा कर सकते हो।

आज-कल नशा करना भी हाई-फाई होने की और मोर्डर्न होने की पहचान हो गयी हैं। याद रखना ये बात ये जरुरी नहीं हैं जिस काम को सब लोग कर रहे हो वो सही हो और ये भी जरुरी नहीं हैं की जिस रास्ते पे आप अकेले चल रहे हो वो गलत हो।

ज़िंदगी में अक्सर वहीं लोग कामयाब होते हैं, वहीं कुछ बड़ा कर के दिखाते है जो अपना रास्ता अपनी मंज़िल खुद तय करते हैं और उस रास्ते पे वो खुद अकेले ही चलते हैं तो आज कल के युवाओ और बच्चो से ये रिक्वेस्ट करूंगा की किसी भी तरह के नशे से अपने आप को बचाये क्योंकि सौक-सौक में मस्ती-मस्ती में उसमे घुश तो जाते हैं लेकिन निकलना आपके बस के बहार हो जाता हैं।

अगर आप ज़िंदगी में कुछ करना चाहते हो ना तो प्लीज तो किसी भी तरह की नशे की आदत आप अपने आपको कभी भी लगने मत देना चाहे वो ड्रिंकिंग हो, स्मोकिंग हो, तम्बाकू चबाना हो या फिर कोई भी नशा हो आप नशे से दूर रहिये।

2. अश्लील बातें सुनने और देखने से खुद को दूर रखे।

दूसरी बात आप अश्लील बातें सुनने में और देखने में खुद को दूर रखे। ये अश्लील चित्र और ये अश्लील बातें हमारे युवा पीढ़ी को बर्बाद कर रहे हैं। लोग कहते हैं एक बाद देख लेने से क्या होता हैं क्या आपको पता हैं की जो चीज़ आपने एक बार देख ली वो चीज़ आपके सबकॉन्सेस माइंड में छप जाती हैं वहां से निकलना उसके बाद बहुत मुश्किल हो जाती हैं।

आप कोई भी चीज़ अपने माइंड में आसानी से डाल सकते हैं लेकिन निकालना उसे बहुत मुश्किल हो जाता हैं और आप जब ऐसी चीज़ो जब देखते हैं या सुनते हैं तो आपका माइंड बार-बार उन चीज़ो को देखना चाहता हैं, बार-बार सुनना चाहता हैं और फिर ये चीज़ आपकी आदत बन जाती हैं और फिर ये आदत फिर आपकी बर्बादी कर देती हैं। इसीलिए ऐसी चीज़े सुनने या देखने से आप दूर रहिये। जो आपके चरित्र को ही नस्ट कर दें, जो आपकी सारी शक्ति को ही नस्ट कर दें।

3. पढ़ाई-लिखाई करें और रिलेशनशिप से दूर रहे।

आज कल के अधिकतर युवा पढ़ाई-लिखाई की उम्र में, कर्रिएर बनाने की उम्र में रिलेशन बना लेते हैं, लैला-मजनू बनके घूमते हैं और कहते हैं की उसने हमे छोड़ दिया, उसने हमे धोका दें दिया, मैं उसके बिना जी नहीं पाया, मैं उसकी यादो को नहीं भुला पा रहा। अरे, ये कोई उम्र हैं आपकी?

ये उम्र हैं आपकी कर्रिएर बनाने की, अपनी लाइफ बनाने की, जब आपकी उम्र रिस्तो को निभाने की हो जाये तो बना लेना रिश्ते। अभी तो आप खुद को संभाल नहीं पा रहे हो तो खुद को कहाँ से संभालोगे। रिस्तो को संभालना कोई मज़ाक नहीं हैं। बचपना आपका अभी छूटा नहीं हैं और लैला-मजनू बन के बैठ जाते हैं।

आपको पता भी हैं लैला-मजनू को प्रेम की कितनी गहरी समझ थी, आप लोगो की तरह उनका प्रेम नहीं था। बस जो फिल्मो में देख लिया, किस्को कहानियों में सुन लिया वही आपके दिमाग में छप जाता हैं और फिर वहीं आप करने लग जाते हो। फिर ना पढ़ाई में मन लगता हैं और ना किसी काम में मन लगता हैं।

इसी भरे जवानी में लड़के-लड़किया देवदास बनके बैठे हैं जिस उम्र में उत्साह, ख़ुशी, और शांति भरपूर होती हैं उस उम्र में सारी शक्ति गवा देते हो। अगर आपको किसी इंसान से जुड़ना हैं ना तो पहले आप अपने लाइफ में कुछ बन। आप ही नहीं बने हो, आपने अपने लिए ही कुछ नहीं किया हैं तो आप किसी और इंसान के लिए क्या करोगे। जोश से भरी जवानी की उम्र में जिसे देखो वो रो रहा हैं मुझे उसने छोड़ दिया, मुझे उसने धोका दें दिया, हद होती हैं पागलपन की।

अरे, कुछ बड़ा काम करो, कुछ ऐसा करो जिससे आपके परिवार को आप पे नाज़ हो, आपके माता-पिता को आप पे नाज़ हो। तो पहले कर्रिएर बनाओ, ज़िंदगी बनाओ और जब कुछ बन जाओ ज़िंदगी में तो रिश्ते भी बना लेना।

4. किसी भी तरह के बेट और जुए से दूर रहो।

ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो जुवाओ के चक्कर में लाखो रूपये गवा देते हैं, अपनी ज़िंदगी बर्बाद के देते हैं। ये जो लोग आपको रातो-रात करोड़पति होने, अमीर होने के सपने दिखाते हैं ये सब सिर्फ दिखावा हैं। ये सब सिर्फ साजिसे हैं आपकी ज़िंदगी बर्बाद करने की, आपका पैसा लूटने की। कोई इंसान रातो-रात करोड़पति या अमीर नहीं होता हैं इसे आप अपने दिमाग से निकल दो।

जो भी इंसान धनवान होता हैं या तो उसके परिवार में पहले किसी ने मेनहत की हैं या तो उस इंसान ने अपने ज़िंदगी में खुद मेनहत की होगी। अपने बड़े-बुजुर्ग लोगो से एक बात जरूर सुनी होगी की जो पैसा पाप की कमाई से आता हैं,रातो-रात आता हैं वो पैसा रातो-रात ख़त्म भी हो जाता हैं। इसलिए मेनहत करो कुछ अच्छा काम करो, अपने हुनर को निखारो। इस जुआ और बैटिंग के चक्कर में पड़ कर अपनी ज़िंदगी को ख़राब मत करना।

5. अपना समय नस्ट ना करें।

आज कल के ये जो हमारे जवान बच्चे हैं ये हवा में उड़ते हैं ज़मीन पे इनका पैर तो होता ही नहीं हैं। ना सोने का टाइम, ना उठने का टाइम, ना खाने का टाइम, ना पिने का टाइम, कहीं भी, कभी भी, कुछ भी खा लेते हैं। मैं आप लोगो से ये बात खाश करके कहूंगा की इस जवानी के जोश में आकर अपने आप में गन्दी आदते मत डालें।

जिन लोगो का जल्दी सोने-उठने का, खाने-पिने का कोई टाइम और नियम नहीं होता ना उनकी आयु जल्दी नस्ट हो जाती हैं वो जल्दी रोगी हो जाते हैं, बीमार हो जाते हैं। इसी समय में बीमार होना बुढ़ापे का लक्षण माना जाता हैं।

आज कल के जवान-जवान बच्चे बड़ी-बड़ी बीमारिया ले करके बैठे हैं छोटी से उम्र में डाईविटीज हो जाता हैं, हाई ब्लड प्रेसर हो जाता हैं, किसी को एसिडिटी हो रही हैं, किसी का डाइजेशन वीक हैं बुढ़ापे वाला बीमारिया बच्चो की उम्र में लेकर के घूम रहे हैं, ये उम्र हैं आप लोगो की हेल्थ बनाने की आप तो खुद अपने हेल्थ की दुश्मन बने हुए हो। कई लोग फिर कहते हैं हम करना तो चाहते हैं लेकिन हमारी आदते नहीं छूटती।

याद रखना एक बात माना आदत बदलना आसान नहीं होता लेकिन जो आदत नहीं बदलता वो इंसान नहीं होता। बनाना बिगड़ना सब कुछ आप के हाथ में हैं कोई बहाना मत दो अपना दोष किसी के सर पर मत डालो। अपनी ज़िम्मेदारी खुद समझो, अपनी ज़िम्मेदारी खुद उठाओ। अगर मेरी बाते आपको चुभ रही हो तो बहुत अच्छी बात हैं चुभनी चाहिए जब चुभेंगी तभी आपके ज़िंदगी में कुछ बदलाव आएगा।

आज पता नहीं क्यों हमारी युवाओ की ये हालत देखकर मुझे बहुत दुःख हो रहा था की इस उम्र में हमारे पूर्वजो ने अपने बल के अपने सौर्य के अपनी कला के पुरे विश्व में झंडे गाड़ दिए। आज कल के हमारे जवान बच्चे उनके ज़िंदगी में ना कोई ख़ुशी हैं और ना कोई शक्ति हैं।

याद रखना ये समय आपकी ज़िंदगी का बहुत स्पेशल टाइम हैं, आप जो चाहे वो हांसिल कर सकते हैं, आप जो चाहे बन सकते हैं तो प्लीज आप अपने आप को इन गंदी आदतों से बहार निकाले और लाइफ में कुछ अच्छा करें कुछ बड़ा करें।

कहते हैं जब हम दुनिया में आते हैं तब हम रोते हैं और दुनिया हस्ती हैं लेकिन जब हम दुनिया से जाये तो कुछ ऐसा कर के जाये की हम हस्ते-हस्ते जाये और ये दुनिया हमारे पीछे हमे याद करके रोती रहे।

Share With Your Friends