वरुण धवन सफलता की कहानी – Varun Dhawan Success Story

वरुण धवन सफलता की कहानी

Varun Dhawan Success Story In Hindi The Famous Bollywood Star Varun Dhawan Biography Age Girlfriend Net Worth Movies Here, You Can Read Latest Collection Short Motivational Speech In Hindi For Students Life Lessons Motivational Quotes Success Story And Tips

Varun Dhawan Success Story In Hindi - वरुण धवन सफलता की कहानी।

Success Story In Hindi वरुण धवन बॉलीवुड के सबसे Most Successful Young Actors में से एक है जिनकी हर फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सक्सेसफुल रही है। वरुण को पहले एक टोटली कॉमर्सिअल हीरो माना जाता था पर बदलापुर, अक्टूबर, और कलंक जैसी फिल्म्स के बाद उन्हें एक New Age एक्टर माना जा रहा है। आज हम आपको वरुण धवन के लाइफ से जुडी कुछ ऐसी बाते बतायेगे जो आप सायद नहीं जानते हो।

Early Life

वरुण धवन का Birth 28 अप्रैल 1987 को हुआ और उस वक्त उनके फादर डेविड धवन बॉलीवुड में As a डायरेक्टर काम ढूंढ रहे थे। वरुण ने बताया की मेरा Early Face Of Childhood एक रूम के फ्लैट में बिता जहा से मेरे फादर ने अपना स्ट्रगल सुरु किया था।

उन दिनों फिल्म डायरेक्ट करने के ज्यादा पैसे नहीं मिलते थे जिनकी वजह से एक पॉपुलर डायरेक्टर होने के बाद भी हमारी Family ने सात साल एक रूम के घर में ही बिताये।

वरुण को हमेशा से ही फिल्म्स में एक्टिंग करने में इंट्रेस्ट नहीं था बल्कि उन्हें लगता था की एक्टिंग के प्रोफेशन में ज्यादा दिमाग नहीं लगाना पड़ता बस एक एक्टर को डायरेक्टर के गार्डन्स में काम करना होता है। वरुण उस वक्त एक Teen Age के थे जो बॉलीवुड फिल्म्स की वजाये हॉलीवुड फिल्म्स में इंट्रेस्ट रखते थे और उन्हें एक्टिंग से ज्यादा स्टैंडअप कॉमेडी और टॉल्क शोज करने में इंट्रेस्ट था।

पर डेविड, वरुण धवन को इन सब चीज़ो से दूर रखना चाहते थे और उनका मानना था की वरुण को कैडमिक्स में आगे जाना चाहिए इसलिए उन्हें कॉमर्स और बिज़नेस मैनेजमेंट की स्टडीज के लिए UK भेजा गया और तब वरुण एक इन्वेस्टमेंट बैंकर बनना चाहते थे।

Inspirations

जैसा की हमने आपको बताया की वरुण को हिंदी फिल्म्स में ज्यादा इंट्रेस्ट नहीं था और वो हॉलीवुड फिल्म्स से ही हमेशा इंस्पायर्ड रहे है अपने Childhood में उन्हें Jim Carrey, Robin Williams की मूवीज पसंद आती थी। जिसको देखकर वो एक स्टैंडप कॉमेडीयन बनना चाहते थे।

वरुण ने कहा की मुझे एक्टिंग करने से ज्यादा एंटरटेन करने वाले आर्टिस्ट ज्यादा पसंद आते थे और इन दिनों मैं “Late Show With David Letterman” से भी बहुत इंस्पायर्ड था जिसको देखकर मैं सोचता था की मैं भी एक कॉमेडी टॉल्क शो होस्ट करूँगा।

वरुण को एक्टिंग की रियल इंस्पिरेशन “Christian Bale” की फिल्म “अमेरिकन साइको” देखकर आयी जिससे वो इतना इंस्पायर हुए की “Christian Bale” की कैरेक्टर की तरह ही वरुण ने भी इन्वेस्टमेंट बैंकर बनने की ठान ली और पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने सिटी बैंक में इंटरव्यू भी दिया जहा उनका सिलेक्शन नहीं हो पाया।

इसके अलावा वरुण अमेरिकन रेश्लर और एक्टर “Dwayne Johnson” को अपना आइडियल मानते है जहा उनको देखकर ही वरुण ने फिटनेस पर ध्यान देना सुरु किया। वरुण आज भी The Rock की मिमकरी करते नजर आते है और उनका ड्रीम The Rock के साथ एक फिल्म करना है।

Career Shift

वरुण ने कन्फेस किया की मैं अपने युथ में करियर को लेकर बहुत Confuse रहता था जिसकी वजह से मुझे फॅमिली में सीरियसली नहीं लिया जाता था। फिर एक दिन वरुण ने फाइनली डिसाइड किया की वह अपने आप ही फिल्म्स में एंटर करने की कोशिश करेंगे।

इसीलिए उन्होंने सबसे पहले एक छोटे प्रोडक्शन हाउस में काम किया जहा Advertisement Produce की जाती थी। वरुण उस प्रोडक्शन हाउस में एक स्पॉट बॉय की तरह काम करते थे जहा उनका मेन काम सेट पे प्रॉप्स को Arrange करना होता था।

वरुण ने बताया की सानिया मिर्जा एक शूज का ऐड कर रही थी तो उस ऐड में सारे सूज सेट पर मैंने ही Arrange किये थे और मुझे बहुत ही कम्प्लीक्स फीलिंग आ रही थी की मैंने सानिया मिर्जा के ऐड में कंट्रीब्यूशन किया है।

फिर उसी बिच वरुण ने फिल्म्स के लिए भी ऑडिशन देना सुरु किया जहा उन्होंने किरण राव की “फिल्म्स धोभी” घाट और हॉलीबुड फिल्म “Life Of Pi” के लिए ऑडिशन दिया।

ये बात जब उनके फादर को पता चली तो उन्होंने वरुण को कहा की ऐसी फिल्म्स से तुम्हे करियर सुरु नहीं करनी चाहिए अगर तुम्हे फिल्म्स में एक्टिंग करनी है तो किसी बड़े प्रोडक्शन हाउस में जाकर पहले देखो की फिल्म्स कैसे बनती है। फिर उसके बाद वरुण करन जोहर की फिल्म माय नाम इस खान के जूनियर असिस्टेंट डायरेक्टर रहे जहा उनकी सिद्धार्थ मलोह्त्रा से मुलाकात हुयी।

दोनों की फ्रेंडशिप देखते हुए करन ने उन्हें “स्टूडेंट्स ऑफ़ द ईयर” में कास्ट करने का मन बना लिया। जब वरुण को यह बात बताई गयी तो उन्हें लगा की इससे अच्छा लांच उन्हें और कही नहीं मिल सकता और उन्होंने फिल्म को करने के लिए हां कर दी।

स्टूडेंट्स ऑफ़ द ईयर बॉक्स ऑफिस पर सक्सेसफुल रही जिसके बाद वरुण को कई फिल्म्स के ऑफर आना सुरु हो गए।

Criticism And Controversy

वरुण के करियर की शुरुआती दिनों से ही उन्हें उनके एक्टिंग के लिए Criticize किया जाता रहा है। जहा कई लोगो का मानना है की वह बहुत ओवर एक्टिंग करते है और उनके एक्टिंग में सलमान, गोविंदा और अक्षय के Influencer नजर आते है वही वरुण ने इसके Clarification में कहा की हां मैं जनता हूँ की मैं ओवरएक्टिंग कर लेता हूँ।

क्योकि बचपन में अपने फादर की फिल्म्स देखता था और मेरी मेनस्ट्रीम फिल्म्स के कररेक्टर भी बहुत वैसे होते है इसीलिए मैं कही ना कही Subconsciously कभी गोविंदा कभी सलमान की तरह ही एक्टिंग करने लग जाता हूँ।

इसके अलावा वरुण को अपने कमेंट्स के लिए भी काफी Criticize और Troll किया जाता है जहा ऐसे कई इन्टेन्सेस रहे है की जब उन्होंने पब्लिक्ली कुछ कहा उसके बाद उनका सोशल मीडिया पर बहुत मजाक उड़ाया गया। सबसे फेमस इसमें इनका दिल वाले को इन्सेप्शन से कम्पेयर करने का कमेंट रहा।

कंट्रोवर्सी की बात करे तो वरुण का करियर कंट्रोवर्सीयल मैटर से दूर ही रहा है पर उनके स्पॉन्टेनियस कमेंट की वजह से कई बार कंट्रोवर्सी भी हुयी। जहा IIFA अवॉर्ड में कंगना के नेपोटिसम कमेंट का मजाक उड़ाते हुए उन्होंने सैफअली खान और करन जोहर के साथ स्टेज पर नेपोटिसम रॉक चिल्लाना सुरु कर दिया।

और बाद में सभी ने इस चीज़ को Criticize किया और वरुण को भी रियलाइज हुआ की उन्हें ऐसा नहीं कहना चाहिए था वरुण ने कहा की मैं माफ़ी मांगता हूँ की मैंने स्टेज पर ऐसी हरकत की और सायद मुझे हमेशा याद रखना चाहिए की मेरे फादर भी बिना किसी के सपोर्ट के इस इंडस्ट्री में आये थे तो Obesely मुझे नेपोटिसम रॉक्स नहीं कहना चाहिए था।

Life Changing Films

स्टूडेंट्स ऑफ़ द ईयर, मैं तेरा हीरो, हम्प्टी शर्मा जैसी मसाला फिल्म्स के बाद वरुण ने बदलापुर जैसी डाक रिवेंज ड्रामा साइन की और सभी ने इस फिल्म्स को करने से माना किया। बदलापुर के डायरेक्टर श्रीराम राघवन को भी लगा की वरुण इस फिल्म्स से खुद ही बैकऑउट कर लेंगे क्योकि उन्होंने इसे पहले सिर्फ मेन स्ट्रीम फिल्म्स में ही काम किया था।

वरुण ने बताया की कई लोगो ने मुझे कहा की नवाजुद्दीन के सामने मेरी स्क्रीन प्रजेंस नहीं दिखेगी। पर मेरे लिए बदलापुर करना बहुत जरुरी था। वरुण को मेन स्ट्रीम फिल्म्स करते हुए सेफ प्ले नहीं करना था और उन्हें बदलापुर में अपने कैरेक्टर के लिए बहुत मेहनत की।

इसके शूट के दौरान वरुण का मूड खुद ही बहुत डिप्रेसिव रहने लगा। वरुण ने कहा की इससे पहले मैंने अपनी किसी भी फिल्म में डेथ सिन एक्सपीरियंस नहीं की थी पर बदलापुर के शूट के दौरान हर लोकेशन और कैरेक्टर इतने रियल थे की मुझे फिल्म के इनविरोमेंट ने बहुत इफ़ेक्ट किया।

वरुण के कोस्टार नवाज़ुद्दीन ने उनकी स्टेज में बहुत हेल्प की जहा उन्होंने वरुण को समझाया की तुम ऐसे कैरेक्टर के लिए अभी नए हो तो बहुत Obvious है की तुम्हे यह कैरेक्टर अंदर से बहुत इफ़ेक्ट करेगा पर इसे एक एक्सपीरियंस की तरह ही लो और अपनी सेंसबिलिटी को ध्यान में रखकर ही एक्टिंग करो।

बदलापुर बॉक्सऑफिस पर सक्सेसफुल रही और वरुण को पहली बार उनकी एक्टिंग के लिए उन्हें प्रेस किया गया जिसके बाद वरुण को कंटेंट बेस्ड फिल्म्स के लिए भी कंसीडर किया जाने लगा।

बदलापुर के बाद उन्होंने अक्टूबर के साथ दुबारा क्रिटिक्स को इम्प्रेस किया उनके अक्टूबर साइन करने के पीछे भी एक बहुत इंट्रेस्टिंग स्टोरी है जहा वरुण खुद शूजित सिरकार को Request कर रहे थे की वो अपनी फिल्म में कास्ट करे।

शूजित ने उन्हें बताया की वो इस फिल्म के लिए वो एक न्यूकमर ढूंढ रहे है और ना हो वो वरुण की एक्टिंग फ़ीस अफोर्ड कर सकते है फिर वरुण से शूजित को कहा की मैं इस फिल्म के लिए एक न्यूकमर बन जाऊंगा और आप जो कहेंगे मैं वैसा ही करूँगा। इसलिए वरुण ने अपनी एक्टिंग फ़ीस 60 % कम चार्ज की और अपने कैरेक्टर के प्रेपरेशन के लिए उन्होंने दिल्ली के होटल में काम भी किया।

वरुण के मुताबिक अक्टूबर उनके करियर की सबसे पर्सनल फिल्म है क्योकि अपने कैरेक्टर डैन से उन्होंने बहुत कुछ सीखा।

अक्टूबर बॉक्सऑफिस पर उतनी खाश कलेक्शन नहीं कर पायी पर अपने स्माल बजट और डिजिटल मेडिअम सेल्स से फिल्म में काफी अच्छा प्रॉफिट कमा लिया। वरुण जानते थे की फिल्म बॉक्सऑफिस पर उतना नहीं चलेगी पर उन्हें ये पता था की डिजिटल मेडिअम पर उनकी ये फिल्म को बहुत Apricate किया जायेगा।

वरुण ने कहा की मुझे आज भी फैंस इस फिल्म के लिए ईमेल और लेटर लिखते है क्योकि उन्हें मेरे कैरेक्टर के थरु अपने पर्सनल एक्सपीरियंस नजर आते है और यही मेरे लिए इस फिल्म की सबसे बड़ी सक्सेस है।

अक्टूबर के बाद वरुण अपनी मेन स्ट्रीम्स फिल्म्स में भी स्टिक कैरेक्टर करने लगे है जहा सुई धागा में मौजी कैरेक्टर के लिए उन्होंने दो महीने तक स्टिचिंग का कोर्स किया क्योकि वरुण इस कैरेक्टर को पूरी फील के साथ करना चाहते थे।

वरुण बदलापुर अक्टूबर, कलंक जैसी फिल्म्स को ही अपनी बेस्ट फिल्म्स नहीं मानते बल्कि आज भी वो अपनी मेन स्ट्रीम्स फिल्म्स को बहुत वैल्यू करते है।

वरुण का मानना है उन्हें हर तरह के ऑडियंस के लिए फिल्म्स करनी है चाहे जुड़वाँ या बद्रीनाथ जैसी फिल्म्स क्रिटिक्स को पसंद ना आये पर मॉस ऑडियंस इसी फिल्म्स की वजह से मुझे याद रखती है। इसीलिए अपनी करियर में मैं हर तरह की मिल्म्स करता नजर आऊंगा।

Love Story

वरुण अपनी Love Life को लेकर बहुत शॉर्टेड नजर आते है जहा वो हमेशा से ही वन वोमेन मैन रहे है। उनकी गर्लफ्रेंड नताशा दलाल को अपने चाइल्डहुड से जानते है और दोनों कॉलेज के दिनों से रिलेशनशिप में है।

वरुण कभी अपने रिलेशनशिप को मीडिया में डिनॉय नहीं किया और उनका कहना है की नताशा मेरे साथ तबसे है जब मैं लाइफ में बिलकुल जीरो था। नताशा ने मुझे हर जगह सपोर्ट किया है और अगर नताशा नहीं होती तो मैं कभी बदलापुर और अक्टूबर जैसी फिल्म्स साइन नहीं करता।

क्योकि जहा सबने मुझे ऐसी फिल्म्स करने से मना किया था नताशा उसमे से थी जिसने मुझे हमेशा अपने डिसीजन के लिए कॉंफिडेंट फील करवाया।

नताशा प्रोफेशन से फैसन डिजाइनर है और उन्हें वरुण से दूर रहना बिलकुल भी पसंद नहीं। वरुण ने बताया की नताशा को मेरी ग्रिलफ्रेंड होने की वजह से बहुत कुछ फेश करना पड़ता है जैसे कोई पागल फैंस के कमेंट बहुत डिस्टर्ब कर देते है पर कुल मिलाकर दोनों एक साथ बहुत खुद नजर आते है और माना जा रहा है की दोनों जल्द ही शादी भी कर लेंगे।

Philosophy

वरुण मानते ही की वो अभी भी एक ट्रांसजिसन फेश में है और लाइफ को लेकर फिलॉस्फी हमेशा बदलती रहती है अपनी फिल्म्स और कोएक्टर से उन्हें बहुत कुछ सिखने को मिलता है और उन्होंने कन्फेस किया की एक टाइम पर अपनी फिल्म्स की बैक टू बैक सक्सेस के बाद वो अरोगिन भी हो गए थे।

वरुण ने कहा स्टारडम आपको अरोगिन बना देता है और मुझे भी ऐसा फील हुआ क्योकि मैं भी अपने करियर को लेकर बहुत सेफ फील करने लगा।

लेकिन बदलापुर करने के मैंने रियलाइज किया की एक आर्टिस्ट के रूप में मुझे अभी बहुत कुछ डिस्कवर करना है वरुण एक वर्कहोलिक है जो मानते है की आप जितनी मेहनत करेंगे वैसा ही आपको आउटपुट मिलता है।

इसीलिए वरुण को हम साल में दो तीन फिल्म्स में देखते है और अभी भी इसी तरह काम करना चाहते है। वरुण अपने फैमिली के सबसे प्यारे बच्चे है और आज भी एक हाईएस्ट एक्टर होने के बावजूद वो अपनी फैमिली के साथ रहना पसंद करते है।

जल्द में ही वरुण ने एक नया घर भी लिया पर वो भी उसी बिल्डिंग में लिया जहा उनके पैरेंट्स पहले से ही रहते है। वरुण का मानना है की पेरेंट्स के साथ रहना एक लक्सरी है और मैं जितना भी सक्सेसफुल और स्टैबिलिस्ड हो जाऊ पर मैं हमेशा अपने पेरेंट्स के साथ ही रहूँगा।।

तो ये थी बॉलीवुड स्टार वरुण धवन की कुछ जानकारिया जिन्हे आप Biography कहे या फिर Success Story, उम्मीद करता हूँ की आपको ये जरूर पसंद आये होंगे और इनसे बहुत कुछ सिखने को भी मिला होगा।।


Read Also :-

Share With Your Friends