Zindagi Me Risk Lena Sikho – जिंदगी में रिस्क लेना सीखो।

जिंदगी में रिस्क लेना सीखो

Zindagi Me Risk Lena Sikho Inspirational And Motivational Speech In Hindi For Students Success In Life रिस्क लेना सीखो Here, You Can Read Latest Collection Short Motivational Speech In Hindi For Students Life Lessons Motivational Quotes Success Story And Tips

Zindagi Me Risk Lena Sikho - जिंदगी में रिस्क लेना सीखो।

रिस्क लेना सीखो – वैसे मैं ये नहीं बोलूंगा की आपको बहुत बड़ा रिस्क लेना है कम से कम इतना तो रिस्क ले ही सकते हो की मैं आज जो भी कहूंगा उसे पुरे दिल और दिमाग से सुनो और उसे कही ना कही अपने दिमाग के अंदर डाल दो की लाइफ में कुछ ना कुछ बड़ा करना है चाहे जो भी हो जाये मुझे कुछ ना कुछ बड़ा करना है।

वैसे बहुत सारे लोग ऐसा होंगे जो इतना भी आज रिस्क नहीं लेंगे और यही से मेरी बातो को छोड़ कर चले जायेंगे क्योंकि बहुत सारे लोगो को केवल फनी वीडियो देखना पसंद है फालतू का टाइम पास करना है। आज बहुत सारे लोग यूट्यूब पर मोटिवेशनल वीडियो बनाते है लेकिन उसे बहुत कम लोग देखेंगे।

क्योंकि हम सब को कुछ ऐसा नहीं चाहिए की ज़िंदगी बदल जाये या फिर आपको कुछ नया सीखा पाए बस आपको कुछ टाइम के लिए वो फालतू के जोक्स पर हंशी आएगी, कुछ टाइम के लिए वो फालतू की बातें अच्छी लगेंगी।

सफलता कभी भी मार्कशीट देखकर नहीं आती अगर आप लगातार मेहनत करते है तो सफलता के सिखर तक आप आराम से पहुंच जाओगे। आज कल के जो भी लोग है उन्हें केवल Motivational Story सुनना या फिर उसको पढ़ना पसंद है। मुझे भी अच्छा लगता है की आप मोटिवेशनल स्पीच स्टोरी को सुनते है पढ़ते है लेकिन आप कभी भी उसे अमल में क्यों नहीं लाते।

सबसे जरुरी है की आप अगर किसी अच्छी चीज़ को देखो या फिर किसी अच्छी चीज़ को पढ़ो तो उसको अमल में लाओ उसे लाने में आलश क्यों करते हो। यार खुद ही सोचो क्या कोई पेड़ एक ही दिन में बड़ा हो जाता है क्या नहीं ना ! उसको टाइम लगता है सालो लग जाते है तब जाकर उसमे फल आते है।

और अगर आज के लोगो की बात करू तो वो केवल एक ही झटके में सक्सेस होना चाहते है वो कोई रिस्क लेना ही नहीं चाहते है। वो सोचते है कही ना कही से कोई आसान रास्ता निकल आये की ऐसे पैसे कमाने है और बिना कुछ देखे उसमे कूद जायेंगे। ऐसा क्यों होता है अगर तुम्हे सफल होना है तो रिस्क लेना होगा जब तक तुम रिस्क नहीं लोगे तब तक तुम सफल कैसे हो पाओगे।

सोचो कोई भी चीज़ होने में टाइम लगता है या फिर कोई भी चीज़ को करने के लिए तुम्हे कुछ ना कुछ इनपुट तो देना ही पड़ेगा तभी उसका कुछ आउटपुट निकलेगा। अगर लाइफ में डरते रहोगे तो फिर लाइफ में कुछ भी नहीं कर पाओगे। इसीलिए अगर सक्सेस पाना है तो रिस्क लेना ही पड़ेगा।

आप लोग तो हरिवंश राय बच्चन को तो जानते ही होंगे इनकी एक छोटी सी कविता है जिनमे वो कहते है की

”तू ना थके का कभी..
तू ना रुके का कभी..
तू ना मुड़े का कभी..
कर सपथ.. कर सपथ.. कर सपथ”

वैसे ये बहुत सारे लोगो ने सुना होगा छोटी सी लाइन है मुझे उम्मीद है की आप इसमें से समझेंगे की ” तू ना रुकेगा कभी.. तू ना थकेगा कभी.. तू ना मुड़ेगा कभी.. बस तुम्हे अपने ज़िंदगी में चलना है। हर इंसान के पास सफल होने के लिए एक मास्टर प्लान होता है आपके पास भी होगा लेकिन वो कही ना कही अंदर से डर लग रहता है की ये होगा या नहीं होगा।

और साथ में ऐसा भी होता ही की जो मास्टर प्लान होता है वो हम किसी के साथ शेयर तो नहीं करते ताकि कोई दूसरे सफल ना हो जाते हमारे माइंड के केवल एक ही चीज़ चलती है की अगर मेरे पास कोई बहुत अच्छा प्लान है और मैं उसको शेयर नहीं करूंगा ना ही अपने दोस्तों के साथ ना ही किसी और इंसान के साथ क्योंकि कही उसने कॉपी कर लिया तो वो सफल हो जायेगा।

अगर ऐसा आप सोच रहे हो ना तो आपसे बड़ा बेवकूफ आज तक मैंने नहीं देखा। सफल इंसान वो होता है जो रिस्क लेकर कुछ अलग करता है अपने दोस्तों के साथ आप बात कर सकते हो आप इस टॉपिक पर क्या पता जो पता नहीं है आपको वो उसको पता हो। हर एक चीज़ में इंसान परफेक्ट नहीं होता।

आपके पास जो भी प्लान है वो दुसरो के साथ डिसकस करना ही होगा। आप पूरा मत बताओ थोड़ा -थोड़ा बताओ क्या पता वहां से आपको और ज्यादा आईडिया मिले उससे क्या हो जो आपके पास मास्टर प्लान है वो और परफेक्ट बन पाए।

वैसे बहुत जरुरी होता है खुद पर आत्मविस्वाश होना। ”सेल्फ कॉन्फिडेंस” अगर आपको सफलता हासिल करना है तो आपको सबसे पहले खुद पर भरोषा करना होगा आत्मविस्वाश बढ़ना होगा अगर आत्मविस्वाश नहीं होगा तो आप रिस्क नहीं ले पाएंगे और जब तक आप रिस्क नहीं ले पाएंगे तब तक आप सफल कैसे हो पाएंगे कोई भी नहीं हो पायेगा।

सफल लोगो में एक अलग ही आत्मविस्वाश झलकता है वैसे बहुत सारे लोगो की बायोग्राफी पढ़कर आप देख सकते हो की वो लोग अपने ज़िंदगी में कहा से कहा तक पहुंचे है और कैसे पहुंचे है जाहिर है की वो एक अलग ही इंसान थे वो खुद में एक ऐसा इंसान थे जो खुद पर इतना भरोषा रखते थे की अगर कोई गलत Decision भी ले लिया जाये तो वो उसको और अच्छी तरीके से सुधार लेंगे ये होगा है आत्मविस्वाश।

कुछ लोग ऐसे होते है जो इतना डरते है की सफल होने के बाद भी उनके अंदर आत्मविस्वाश नहीं आता और आखिकार वो फिर से दुब जाता है और कुछ लोग ऐसे होते है जिनमे पहले से ही होता है आपके अंदर भी आत्मविस्वाश है हर एक इंसान के अंदर आत्मविस्वाश होता ही है उसे जानो पहचानो और फिर आगे बढ़ो हमे रिस्क लेने से घबड़ाना नहीं चाहिए बल्कि पुरे आत्मविस्वाश के साथ रिस्क लेकर सफलता के रास्ते पर चलना चाहिए।

आत्मविस्वाश के बल पर ही आप सफलता को हांसिल कर सकते हो सोचिये अगर आपको खुद पर भरोषा ही नहीं होगा तो ज़िंदगी में आगे कैसे बढ़ेंगे इसीलिए सबसे पहले खुद पर भरोषा करना सीखो और दिमाग से नहीं दिल से सोचो।

कभी-कभी आपको लगता ही की दिमाग से जो भी फैसले लेंगे वो सही लेंगे क्योंकि वो फैसले सोच कर लिए होंगे लेकिन अगर वही आपने दिल से फैसला लिए होंगे तो वो आपके इमोशन के साथ जुड़े होंगे और वो जो भी चीज़ आपने सोचे होंगे उसके पुरे होने के चान्सेस बहुत ज्यादा होते है।

अगर आप दिमाग की सुनोगे तो आप कभी भी सही निर्णय नहीं ले पाओगे वो कही ना कही हां या तो ना यही दोनों में फसा रहेगा। ये हम नहीं कर सकते या ये हम नहीं कर पाएंगे ऐसी चीज़ो में फस जायेंगे वैसे ये मैं नहीं कह रहा हु ये वैज्ञानिक ने प्रूफ कर के दिखाया है की जब भी हम दिल की सुनते है तो हमारा निर्णय एकदम सही होता है।

दरसल जो भी हमारा मन चाहता है वो दिमाग नहीं चाहता लेकिन वो दिल चाहता है और सबसे जरुरी बात दिमाग आपको कभी भी रिस्क लेने को नहीं कहेगा। सोचिये आप जो भी चीज़ दिमाग से सोचते हो तो पहले ना ही जवाब आएगा वो रिस्की होगा क्योंकि दिमाग को बहुत ही ज्यादा डर लगता है हर एक चीज़ का डर लगता है की ये कैसे होगा, वो कैसे होगा, कब हो पाए और दिमाग डरता है की कही फेल ना हो जाये।

दिल ऐसा नहीं सोचता दिल बस हमारे मन की सुनता है इसीलिए अगर आप सफल होना चाहते हो तो दिमाग की नहीं बल्कि दिल की सुनो। दिल हमे सही रास्ता दिखायेगा क्योंकि वही वो चीज़ है जो आपके इमोशन के साथ जुडी हुयी है दिल हमे सही रास्ता दिखाता है दिल हमे सही रास्ता दिखायेगा रिस्क लेने में दिल कभी करता नहीं वो निडर है।

आपको जब भी कोई बड़ा रिस्क लेना हो तो एक बार अपनी दिल को सुन कर देखो। कोई भी बड़ा फैसला लेने से पहले एक बार अपने इमोशन के साथ सोच कर देखना की क्या ये करना सही रहेगा या फिर ये करना गलत रहेगा। आपको दो ही चॉइस मिलेगी और दोनों में से एक ही choose करना पड़ेगा हां या ना तभी आपका फैसला एक सही दिशा में जायेगा।

वैसे भी रिस्क लेने से पहले आपको एक प्लानिंग बनाना होगा एक परफेक्ट प्लानिंग बनाना होगा। जब कभी भी आपको एक बड़ा लक्ष्य तय करना हो या फिर कोई बड़ी चीज़ को हांसिल करनी हो तो इसके लिए सबसे पहले आपको एक अच्छी सी प्लानिंग करनी होगी।

जिस तरह से कोई भी लक्ष्य बिना प्लानिंग के पूरा नहीं हो सकता उसी तरह अगर आप रिस्क लेना चाहते है तो भी एक प्लानिंग जरूर बनाइये। मान लो अगर कही आप पैसे डाल रहे हो तो अगर दुब जाते है तो वो कहा से निकालेंगे वो भी आपको पता होना चाहिए। अगर आपने रिस्क ले लिया और इसकी कोई भी प्लानिंग नहीं है तो ये निश्चित है की आपका Future खतरे में है और आप फ्यूचर में अपने गोल्स से भटक ही जायेंगे और आपका मेन टारगेट अधूरा रह जायेगा।

इसीलिए सफलता के लिए बहुत ही जरुरी है की आप किसी काम को सुरु करने से पहले और रिस्क लेने से पहले पूरी प्लानिंग बना लीजिये और फिर अपने गोल्स को पाने के लिए अपनी जी जान लगा दीजिये दिन रात एक कर दीजिये और फिर अपने सपने को पा लीजिये। जो भी गोल है उसे पूरा करने के लिए एक परफेक्ट टाइम सेट कर लीजिये और ये तय कर लीजिये की आपको उस टाइम तक अपने गोल को पा ही लेना है।

चाहे जो भी हो जाये अगर आप हार भी जाओ ना तो भी टेंशन लेने की जरुरत नहीं है सबसे जरुरी बात तो ये है की आपने अपने गोल को पाने के लिए कम से कम रिस्क तो लिया दिन रात मेहनत तो किया दूसरे लोग ऐसे ही सोच कर छोड़ देते है बिना मेहनत किये बिना ही। अगर आप पूरी प्लानिंग के साथ मेहनत करते है तो आपका सपना जरूर पूरा होगा।

इसीलिए अगर आपका लक्ष्य बड़ा है तो उसे आप कई छोटे छोटे भागो में बाट लो उसके छोटे छोटे पार्ट कर लो और अपनी टाइमिंग को पूरी तरह से सेट कर लो और अब अगर आपने रिस्क लिया तो आप कभी फेल नहीं होंगे क्योंकि आपके पास एक फुल प्रूफ प्लान था। और वैसे भी मैं यही कहता हु की बड़े सपने देखो और परफेक्ट गोल बनाओ।

अगर आप हर काम में सफल पाना चाहते हो तो आपको अपनी आदतों में कुछ बदलाव करने होंगे। बड़े बड़े सपने देखना चाहिए वैसे मैं ये नहीं कह रहा हु की सिर्फ सपने देखें चाहिए वैसे सोते सोते तो हर कोई सपना देख लेता है जो लोग दिन में सपने देखते है और एक गोल बना कर उस पर कड़ी मेहनत करते है वो लोग 100% Sure हूँ की वो Success हो ही जाते है।

अब्दुल कलम साहब कहते थे की प्रत्येक व्यक्ति को सपना देखना चाहिए जो लोग बड़े सपने नहीं देखते वो बड़े बने ही नहीं सकते। इसीलिए बड़े सपने देखो बड़ा लक्ष्य बनाओ और उसे पाने के लिए अपना 100% दे दो।

इसी के साथ साथ आपको समय की कीमत को समझना होगा क्योंकि अगर आपको समय की किम्मत नहीं पता है तो आप कभी भी लाइफ में सफल नहीं हो सकते है। दुनिया में जितने भी सफल लोग है उन सबके पास 24 घंटे ही होते है वो इन्ही 24 घंटो का सही इस्तेमाल करते है और इसी से वो सफल होते है।

दरसल ये लोग समय की कीमत को समझते थे आप इस बात पर गौर करना की वो लोग समय की कीमत को समझते थे इन्होने कभी भी अपने समय को बर्बाद नहीं किया। अगर आपको भी सफल होना है तो फालतू का समय बर्बाद ना करे। जैसे किसी के सामने अपनी सक्सेस की बात करना और जैसे की फालतू की बातें होती है ये सब करना और जो भी प्रोब्लेम्स होती है उस पर बहस करना।

संसार की सबसे मूल्यवान चीज़ है समय ये तो आप जानते ही होंगे की समय किसी के लिए भी नहीं रुका जो इस समय का सही उपयोग कर लेता है वो व्यक्ति सफल होता है और समय से एक बात और भी सीखनी चाहिए की वो कभी रुकता नहीं है इसीलिए आपको भी कभी रुकना नहीं है।

अगर आप रिस्क लेकर फेल भी हो जाओ तो कबि भी अपने गोल को मत बदलो अपने तरीके को बदलो। वैसे बहुत सारे लोग है जो गोल तो बनाते है लेकिन कुछ टाइम के बाद सफतला ना मिलने का बाद वो अपने गोल को ही बदल देते है ऐसा नहीं करना चाहिए अगर आपको सफलता नहीं मिल रही है तो अपने लक्ष्य को नहीं बदलना चाहिए बल्कि आका जो तरीका है उसे बदलना चाहिए।

अगर आपको कोई काम कठिन लग रहा है बहुत हार्ड लग रहा है तो आपको अपने गोल को बदलने की क्या जरुरत है थोड़ा और सही रास्ता ढूंढो, थोड़ा और आसान रास्ता मिल जायेगा अगर आप और मेहनत करोगे तो। अगर आप बार बार असफल हो रहे हो तो आपको काम को नहीं छोड़ना है बल्कि आपको उस काम करने के तरीके को ही बदल देना है।

हर किसी के लाइफ में कठनाईया तो आती ही रहती है लेकिन कुछ लोग इसका जम कर सामना करते है कई इंसान ऐसे होते है जो लड़ रहा है अपनी ज़िंदगी से इतना लड़ता है इतना लड़ता है की एक दिन वो अपने आप अपनी ही कठनाईयो से इतना ऊपर उठ कर सफल हो जाता है की लोग बोलते है की ये तो एक रात में सफल हो गया लेकिन ऐसा नहीं होता।

वो एक रात की सफलता के पीछे बहुत सारी रातें जागे होते है और कुछ लोग तो ऐसे होते है जो की हार्ड वर्क करने के बाद सफल नहीं हो पाते है फिर उस काम को छोड़ देते है और फिर ज़िंदगी में आसान काम ढूढ़ने लगते है जो भी पैसे आएंगे उससे काम चल जायेगा। लेकिन उसकी ज़िंदगी ही वही रुक जाएगी अगर आपके सपने बड़े है तो रिस्क आपको लेना ही पड़ेगा।

जो भी कठिन काम होते है उनका जम कर सामना करो उनसे भागो मत और अपनी लाइफ को आसान बना लो क्योकि आज अगर आप लड़ोगे तो कल आपको लड़ना नहीं पड़ेगा कल आपको ज़िंदगी बहुत ही आराम से जाएगी क्योकि काम को पूरा करने से ज़िंदगी आसान होती है काम को टालने से नहीं रिस्क लो लेकिन सोच समझ कर लो और अगर रिस्क नहीं लेना है तो सोचो ही मत क्योकि ज़िंदगी में रिस्क के बिना कभी भी सफल नहीं हो सकते।

“Best Of Luck” आपके सपनो के लिए आपके ज़िंदगी के लिए।


Read Also :- 

Share With Your Friends